बुधवार, जून 29, 2011

BBC Hindi - अंतरराष्ट्रीय ख़बरें - गूगल के ज़रिए सेंसरशिप?

भारत सरकार अब धीरे-धीरे अपने हाथ लोकतंत्र के गले की ओर बढ़ा रही है. काला धन और भ्रष्टाचार के विरुद्ध एक शब्द भी सुनना नहीं चाहती. जनता के मौलिक अधिकारों का हनन करने पर तुली है. देश दूसरे आपातकाल की ओर बढ़ रहा है. तानाशाही की शुरुआत अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता पर अंकुश लगाने के प्रयास के साथ होती है. बीबीसी हिंदी के साईट पर लगी यह खबर बताती है कि यह प्रयास तेज़ होता जा रहा है...


पूरी खबर पढने के लिए इस लिंक को क्लिक करें 
BBC Hindi - अंतरराष्ट्रीय ख़बरें - गूगल के ज़रिए सेंसरशिप?

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें